09 जुलाई, 2010

रामायण तुम्हें सुनाते हैं

http://www.youtube.com/watch?v=myx8Lb5NAes

3 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..... मनमोह लिया.....आभार

    उत्तर देंहटाएं
  2. Hmm, hmm... soch me hun, kaise kuchh kahun.

    gyaan fir se, jor se pradipt hua...
    pranam

    उत्तर देंहटाएं
  3. पहले सुना था । पुनः सुनकर आनन्द आ गया ।

    उत्तर देंहटाएं

मृत्यु को जीने का प्रयास

मौत से जूझकर जो बच गया ... उसके खौफ, इत्मीनान, फिर खौफ को मैं महसूस करती हूँ ! कह सकती हूँ कि यह एहसास मैंने भोगा है एक हद तक ...