18 अप्रैल, 2008

हर तरफ़ हर जगह, है उसी का नूर...


यूँ तो यह फिल्म का गाना है,पर इसे अपने द्वारा चुने गए फोटो के साथ बनाया.....फोटो ढूंढ़ना मेरा काम,बनाया खुशबू ने,यानि mka के द्वारा.........

10 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत ही शानदार .......आपने इस गाने में जान डाल दी है ....... चल चित्रों के साथ यह गाना बहुत ही संवेदनशील हो गया है मन को छूता है ,,,,,,,,,हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं.....

    उत्तर देंहटाएं
  2. bahut sukhad hai aapki aur mka ki mehnat ka phal....gr8 work di...

    उत्तर देंहटाएं
  3. "हर तरफ, हर जगह, हर कही पे है, हां उसी का नूर" भजन बहुत ही खूबसूरत है और भजन के theme के अनुसार बिभिन्न क्षेत्रो एवम धर्मो के आस्था के प्रतीको को एक जगह लाने की सोच और प्रयास भी सराहनीय है |

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुंदर गीत पर शानदार वीडियो परिकल्पना. आपको व खुश्बू दोनों को ही धन्यवाद. बारंबार देखने योग्य. चित्रों का संयोजन अद्भुत है. सम्मोहित करने वाला वीडियो.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत उम्दा..आप दोनों को बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही सुँदर सँकलन के साथ एक बेहतरीन गीत सुनवाने के लिये शुक्रिया रश्मि जी...
    स्नेह
    -लावण्या

    उत्तर देंहटाएं
  7. har chitr shabd ko us ka arth de raha hai bahut hee advitiy hai ye sangam bahut bahut shukriya prasad kee tarah bantne ke liye

    Anil

    उत्तर देंहटाएं

पुनरावृति

दिए जा रहे हैं बच्चों को सीख  ! "ये देखो वो देखो ये सीखो वो सीखो देखो दुनिया कहाँ से कहाँ जा रही है ! गांव घर में खेती थी ...