17 फ़रवरी, 2021

अटकन चटकन और लेखिका वंदना अवस्थी









 




कहानी या कविता या और किसी विधा में लिखित दस्तावेज़, हैं क्या ? सब सामान हैं, पड़ाव हैं, हमसफ़र हैं - कलम की यात्रा में और इस यात्रा में राहगीरों की कमी नहीं है, हज़ारों आए, आते हैं और अपने शब्दों में अपनी नजर छोड़ जाते हैं... जहां से पाठक उसे उठाते हैं, उसमें झांकते हैं...फिर उनका मन हर राहगीर के साथ सहयात्री बन चलने लगता है, उसकी नजर और नज़रिये को पूरी शिद्दत से पढ़ने और समझने लगता है। इसी समझ की चाक पर राहगीर यानी रचनाकार की पहचान गढ़ी जाती है, उसकी छवि बनने लगती है, उसके ख्यालों की बारीकियां बिंब से प्रतिबिंब बनती हैं और उसकी कलम की बेल परवान चढ़कर आबोहवा को जीवन का दान देती है।

अटकन-चटकन की कथाकार वंदना अवस्थी की जीवनदायिनी कलम के सौजन्य से चटकी रचना है अटकन-चटकन, जिसको मैं एकबारगी नहीं पढ़ सकी क्योंकि मुमकिन  नहीं था। इसके हर पात्र के सम्मोहन से बंध जाती थी मैं और उस मोहपाश को काटकर  आगे बढ़ना मुश्किल होता था क्योंकि हरेक मुझे अलग - अलग सोच की गहरी नदी में गोते लगाने के लिए छोड़ देता था।

कथाकार कुछ नहीं होता जब तक कथा की गलियों से पढ़ने वाले नहीं गुजरते, पर गुजरने के बाद कथा दूसरे सोपान पर जाती है और प्रथम सोपान पर कथाकार का राज्य बनता है। अपनी साकेत नगरी की बड़ी कुशल और गंभीर महिषी हैं वंदना अवस्थी जी जिनकी कलम ने कथा के हर दृश्य को यों जीवंत कर दिया है कि घटना और घटनास्थल भी सांस लेते महसूस होते हैं। जीवन के मंच पर जहां हर पल कलाकार आते हैं और अगले पल ही बदल जाते हैं, दिल दुआ मांगता है कि यहीं कहीं, आस पास, किसी ऐसे कलमजीवी से मुलाकात हो जाए जो ज़िन्दगी के हाथ आए उस पल की बेहतरीन सौगात बन जाए ... 

बेशक वंदना अवस्थी से मिलना कुछ ऐसा ही एहसास है।










10 टिप्‍पणियां:

  1. दिद्दी....क्या कहूँ मैं!!
    लम्बी प्रतीक्षा की है आपके इन शब्दों की, जो आज आशीर्वाद बन मेरी झोली में गिरे हैं। प्रणाम ��

    जवाब देंहटाएं
  2. दिद्दी....क्या कहूँ मैं!!
    लम्बी प्रतीक्षा की है आपके इन शब्दों की, जो आज आशीर्वाद बन मेरी झोली में गिरे हैं। प्रणाम ��

    जवाब देंहटाएं
  3. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  4. बधाई हो आपको।
    वन्दना अवस्थी जी सरलमना और अच्छी रचनाधर्मी हैं।

    जवाब देंहटाएं
  5. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 18.02.2021 को चर्चा मंच पर दिया जाएगा| आपकी उपस्थिति मंच की शोभा बढ़ाएगी
    धन्यवाद

    जवाब देंहटाएं
  6. हार्दिक प्रसन्नता हुई आपकी लेखनी को आत्मसात करके और आपको भी ।

    जवाब देंहटाएं
  7. On dimeapp.in, you can create your fantasy cricket team for a real-life match and compete with other players for big prizes. Remember, there are cash prizes for every match, so you create your fantasy teams and win real money every day.
    Can I actually win money on dimeapp.in?
    Absolutely! Lots of players have already won big prizes on dimeapp.in and you can too. We host different kinds of cash contests, each with its own entry fee and prize money.
    The same goes for everyone here at dimeapp.in. Each year, IPL serves as a defining event for us. From setting new benchmarks to opening new horizons, the league is the most awaited sporting event for our tech teams. Owing to the onset of the COVID pandemic, sporting events were cancelled throughout the world. The news of a postponed IPL was as disappointing for us at dimeapp.in as it was for the fans. Then came the much-awaited announcement of the IPL 2020 – the longest version of IPL till date! And as if the news of IPL 2020 taking place & sports returning wasn’t good enough, we won the TITLE Sponsor rights of this year, making this IPL the dimeapp.in IPL!!


    Choose a contest that you want to play, defeat the competition, and celebrate big wins!
    Is it safe to add money to dimeapp.in?
    Adding money to your dimeapp.in account is both simple and safe. We have many different payment options enabled on dimeapp.in and work hard to ensure that your personal details are safe with us.

    What's more, after you verify your personal details, you can withdraw the money that you win on dimeapp.in directly to your bank account.

    जवाब देंहटाएं

सुना तुमने ?

  सुना तुमने ? गणपति ने महीनों से मोदक को हाथ नहीं लगाया है माँ सरस्वती ने वीणा के तार झंकृत नहीं किये भोग से विमुख हर देवी देवता शिव का त्र...